Monday, May 30, 2011

लंगोटिया यार - चड्डी बडी

बताया था न मेरा नया दोस्त देवांश.. मेरे साथ स्कूल में पढता है और हमारे घर के पास रहता है.. बस दो फ्लेट नीचे.. मैं उसके घर अकेला जा सकता हूँ.. पर मैं केवल उसे बुलाने जाता हूँ.. मैं चाहता हूँ की वो मेरे घर आये.. मेरे साथ खेले... अपने घर जाए ही नहीं... ऐसे ही कल उसे अपने घर ले आया... और हमने खूब धमाल किया...





और फिर दोनों से दहाड़ मार कर रोने की भी एक्टिंग की...

वैसे जब देवांश जब मेरे घर आता है तो हम सारे काम साथ साथ करते है... जैसे खेलना, खाना खाना.. और तो और हम शू शू करने भी साथ साथ जाते है... और पोटी करने भी.. हुआ न देवांश मेरा पक्का लंगोटिया यार...

6 comments:

  1. ये बदमाशी देवांश के साथ...खूब खेल चल रहा है...शाबाश!!! मगर बेटा....शु शु पॉटी थोड़ी न साथ साथ जाते हैं....:)

    ReplyDelete
  2. हाँ ! लंगोटिया यार तो ऐसे ही होते आदि |

    ReplyDelete
  3. अबे बदमाश तु तो बहुत अच्छी एक्टिंग कर लेता हे, ओर हां अब जमाना बदल गया हे इस लिये लंगोटिया यार नही बोलते बल्कि चड्डी यार बोलॊ:) कभी देखा हे किसी को लंगोटी पहने?

    ReplyDelete
  4. हाँ ! लंगोटिया यार तो ऐसे ही होते है| बहुत सुन्दर|

    ReplyDelete

कैसी लगी आपको आदि की बातें ? जरुर बतायें

Related Posts with Thumbnails