Sunday, September 6, 2009

आदि मजे में

आदि मजे में है और बहुत ज्यादा शरारती हो गया है.. कुछ नये शब्द भी सिखे है... जैसे ’चली गई’.. ऊपर चढ़ना सिखा है तो बस अब हर जगह चढ़ने कि कोशिस करता है.. और उस चक्कर में गिर भी जाता है.. पर वो खुब मौज कर रहा है..

आदि की मम्मी अब आदि के साथ खेलने के लिये हर समय घर पर होती है.. तो आजकल मम्मी का कुछ ज्यादा लाड़ला हो गया है.. हर समय मम्मी मम्मी..

कुछ दिनों तक व्यस्तता बनी रहेगी.. लेकिन कोशिस रहेगी सप्ताह में कम से कम एक बार आदि की खबर आप तक पहूँचा दें..

अगले १४ दिन जकार्ता और बैंकाक में कटेगें तो आपके साथ मैं भी आदि को बहुत मिस करूगां..

17 comments:

  1. aare waah aadi aur mummy khub masti maza kar rahe hai,au aadi baba khub sara laad karwake le rahe hai bahut khub.

    ReplyDelete
  2. आदि बेटा बहुत शरारती हो गये हो, लेकिन अच्छा लगता है, अब जल्दी से बोलना सीख लो फ़िर तुम से मिलेगे तो हम तो तुम्हारे दोस्त है ओर भाई तुम से बात भी करेगे ना.बहुत प्यार.
    रंजन जी आप के दिल की हालत समझ सकता हुं, लेकिन काम भी जरुरी है, चलिये आप की यात्रा शुभ हो, ओर अपना काम पुरा कर के फ़िर समय निकाल कर आदि के लिये कोई सुंदर सा खिलोना ले कर आना.
    हमारी तरफ़ से यात्रा के लिये शुभ कामनये, नमस्कार

    ReplyDelete
  3. वाह भई आदि..आखिर तेरी खबर तो मिली. मजे करता रह. और पापा को भी काम निपटा लेने दे..फ़िर वापस शुरु.

    रामराम.

    ReplyDelete
  4. आपकी यात्रा शुभ हो ! समय मिले तो आदि की खबर लिखते रहिएगा |

    ReplyDelete
  5. चलो, बबुआ की खबर तो मिली..तस्वीर देख ली और तसल्ली लग गई. यात्रा शुभ हो!

    ReplyDelete
  6. आदि बेटा!
    आपका तो बहुत दिनों से इन्तजार था।
    खूब शरारत करो, यही तो उम्र है शरारतों की।
    बधाई!

    ReplyDelete
  7. धन्यवाद

    तसल्ली हुई !

    ReplyDelete
  8. आदि भी तो आपको मिस कर रहा होगा..जल्दी लौट आइये...

    ReplyDelete
  9. aadi ko fir se dekh ke achha laga.....

    ReplyDelete
  10. aapki yatra subh ho, aur aadi ko masti se lete dekh achha laga ,mummy ko bhi mera hello :)
    aur haan..aadi "la" ka uchharan (chali gai)karna seekh gaya , jaan kar bahut hi achha laga.
    dher sara pyaar .

    ReplyDelete
  11. बिल्कुल आनन्द में ही सोफायमान दिख रहै हैं आदित्य जी! :)

    ReplyDelete
  12. *********************************
    यात्रा के लिये शुभ कामनये



    प्रत्येक बुधवार सुबह 9.00 बजे बनिए
    चैम्पियन C.M. Quiz में |
    प्रत्येक रविवार सुबह 9.00 बजे शामिल
    होईये ठहाका एक्सप्रेस में |
    प्रत्येक शुक्रवार सुबह 9.00 बजे पढिये
    साहित्यिक उत्कृष्ट रचनाएं
    *********************************
    क्रियेटिव मंच

    ReplyDelete
  13. itne din kahaan rahe Aadi? waise ham bhi vyast rahe.
    achchha lagaa MAUJ karte dekh.
    aish karo.

    ReplyDelete
  14. ओये हीरो तभी हम सोचे की ये आदि गायब कहां हो गया....ह्म्म्म ....

    love ya

    ReplyDelete

कैसी लगी आपको आदि की बातें ? जरुर बतायें

Related Posts with Thumbnails