Tuesday, September 9, 2008

मम्मी की क्लास - flash back

पिछली पोस्ट में मैंने आपको बताया कि मैं बीमार हो गया और मुझे सरोज अस्पताल में भर्ती होना पड़ा. वहां एक दिन मम्मी ने शिकायत की कि आदि दूध अच्छे से नहीं पी पाता है, थोड़ी-थोड़ी देर से दूध मांगता है, शायद इसका पेट नहीं भर रहा.. वगैरह-वगैरह...

पापा को भी लगा कि कुछ समस्या है.. मेरा वज़न भी नहीं बढ़ रहा था.. पापा ने डॉ. अंकल को फोन लगाया और समस्या बताई.. रात के 10:15 हो रहे थे उस समय.. उन्होंने बताया कि वह मुझे देखने आ रहे हैं ..

थोड़ी ही देर में वह आ गये.. उन्होंने मम्मी से बात की, उन्हें लगा कि मम्मी को अच्छे से समझाना चाहिये.. उन्होंने BPNI की बनाई एक flip book मंगाई और मम्मी को समझाने लगे.. breastfeeding क्यों ज़रुरी है, postuer कैसा हो, fore milk और hind milk क्या होता है इत्यादि इत्यादि.. पापा और नानी भी पूरी दिलचस्पी से सुन रहे थे. पता है ,मम्मी की क्लास पूरे 45 मिनट चली... उन्होंने यह भी कहा कि दूध पिलाने में कम से कम तीन घंटे का अन्तर रखें .

ख़ैर ! तीन घंटे का अन्तर तो मैंने मम्मी को कभी नहीं रखने दिया पर अंतर बढ़ाने में भरपूर सहयोग दिया.

7 comments:

  1. " Hi, Adee, hope you are perfactly all right now, but nathkat class thumahree lgnee thee mummy ke nahee ha ha ha , but u are brave boy and supportive to as u co-operated your mom in feeding and maintaining time gap. good beta aise hee chultey rehna ok. and ya aaj ke post ka font kuch theek nahee hai all words are overlaping, if possible mummy se keh kr thoda sa presentation theek kra lo han...."

    Love u always..

    ReplyDelete
  2. आदित्यजी, हिन्दी ब्लॉग टिप्स पर मैंने इसी तरीके से यह बक्सा लगाया है। देखें कि कहीं आपने यह कोड दो बार तो पेस्ट नहीं कर दिया है। या आप इस कोड को हटाकर देखें कि कहीं पहले से आपकी टेम्पलेट इस कोड के साथ तो नहीं है। हो सकता है कि इस कोड को हटाने पर आपको एक बक्सा दिखने लगे।

    ReplyDelete
  3. सीमा आंटी, बीमार तो मैं बहुत पहले हुआ था, अब तो ठीक हो गया..

    कुछ fonts का problem था, अब ठीक है.. thank you

    ReplyDelete
  4. aadi to bahut samajhdaar bachcha hai...achchi lagti hain aadi ki baaten.

    ReplyDelete
  5. It is Working.....

    ReplyDelete
  6. आदी बेटा इतनी बाते कहा से सीखा, बेटा बहुत प्यारी प्यारी बाते करता हे, ओ के वाय कल फ़िर मिलेगे....

    ReplyDelete

कैसी लगी आपको आदि की बातें ? जरुर बतायें

Related Posts with Thumbnails