Monday, June 8, 2009

हर बात पर ना ना...

खेलते खेलते मैं गर्दन हिलाना सीख गया.. मेरी गर्दन हिलाने की दिशा एक ही है..  और आप की भाषा में इसका मतलब "ना" होता है.. तो कुछ भी बात करो, कोई भी सवाल पुछो मेरा उत्तर तो हमेशा एक ही होता है.. और इसी का मजा सभी अपने हिसाब से लेते रहते हैं.. चाचा की शादी से पहले कपुर आंटी मुझसे रोज पुछा करती थी "आदि,  चाचा की शादी में  जायेगा?" और मेरा जबाब देख कहती "देखो एसे कहीं नहीं  जाना, ये तो हमारे साथ ही मस्त है".. और भी एसे कई किस्से....अब आप बताओ "मैनें एसा तो नहीं कहा था न?"




शरारत ऑफ द डे
शशी आंटी (अरे वही आंटी जहाँ में दिन में रहता हूँ जब पापा मम्मी ऑफिस जाते हैं) के घर से निकलने के लिये ६-७ सीढियां चढ़नी पड़ती है...  गल्ती से घर का दरवाजा खुला रह गया और मैं सीढ़िया चढ़ बाहर चला.. जैसे ही अंकल की नजर मुझ पर पड़ी तो वो मुझे लेन आये.. और फिर क्या था मैं आगे आगे और अंकल पीछे पीछे... मुझे पकड़ना आसान नहीं था...

13 comments:

  1. वाह बेटे बहुत हजिर जवाद हो गयी हो ये सिर हिलाना कहाँ से सीखा अच्छा अब ये बताओ कि नानि के पास आयोगे? अब सिर मारो बच्चू हा् हा हा

    ReplyDelete
  2. तेरी ना ना में हाँ का मजा है...उम्र पड़ी है जल्दी क्या है... अभी नहीं कभी सही...
    नीरज

    ReplyDelete
  3. वाह बेटे, धीरे धीरे रंग पर आता जारहा है? कर बेटा आदि..करले जितनी जी चाहें उतनी शरारतें..तेरे लिये मैं लायसेंस बनवा कर भेज रहा हूं शारारत करने देने के लिये.:)

    रामराम.

    ReplyDelete
  4. ha ha ha ! ....rudra bhaiya bhi aise hi karta tha. ab har cheej ke liye kahta hai "DE DOO...DE DOO"

    ReplyDelete
  5. अरे आदि सिर्फ़ ना ना करते हो या फ़िर इस का मतलब भी मालुम है तुम्हे, या बस एक खेल समझ कर प्यारी सी गर्दन घुमा देते हो.आदि खेले गा.....??
    प्यार ओर प्यार

    ReplyDelete
  6. तेरी तो "ना ना" भी बडी प्यारी हॆ, लेकिने शरारत ओफ द डे कुछ ज्यादा हो रही हॆ, बच्चे सीढियां अकेले नहीं चढ़ते, अंकल को साथ रखो ऒर चाहो उतनी सीढियां चढो..... मस्त रहो.

    ReplyDelete
  7. ये मुंडी हिलाना सिर्फ ना ना ही नहीं होता कभी कभार हाँ भी होता है ये सब समझने वाले पर निर्भर करता है |

    ReplyDelete
  8. कर लो प्यारे शरारत जम कर। फिर किताबों के चक्कर में पड़ना ही है!

    ReplyDelete
  9. हा हा!! आदि बदमाशी करेगा...ना ना!! कितना अच्छा बच्चा है..बाकि कुछ मत पूछो वरना पोल खुल जायेगी कि हर बात पर न न करता है. :)

    ReplyDelete
  10. बहुत खूब.. शरारत ऑफ द डे पसंद आई..

    ReplyDelete
  11. शरारत ऑफ़ द डे बढ़िया :)

    ReplyDelete

कैसी लगी आपको आदि की बातें ? जरुर बतायें

Related Posts with Thumbnails