Tuesday, June 23, 2009

आदित्य डिसीज़न आऊट!!!

पापा ने मुझे आऊट करना सिखाया है.. देखो एसे देतें है आऊट..






शरारत ऑफ द डे
कुर्सी और सोफा पर चढ़ना मेरा शगल है.. पर वैसे नहीं जैसे आप सभी चढ़ते है.. ओह सॉरी आपको थोड़ी चढ़ना पड़ता होगा.. आपको पता है मैं कैसे चढ़ता हूँ.. कुर्सी का हत्था पकड़ कर उसके साईड सपोर्ट पर दोनों पाँव रख दिये.. अब चढ़ तो गया.. पर न तो और ऊपर जा सकता था न ही नीचे.. कहां फस गया.. और कोई तरीका नहीं सुझा तो ब्रह्मास्त्र चला दिया..  उसके बाद तो सुरक्षित लैंड करवा लिया गया.. आदि बच्चु एसी शरारत करते हो कहीं गिर गये तो?

12 comments:

  1. देखना भाई मुझे आऊट मत करना यार. अब तो तू रेफ़री बन गया है तो ताऊ बिना शतक पूरी करे थोडॆ ही आऊट होगा?:)

    रामराम.

    ReplyDelete
  2. कल क्रिकेट खेल रहे थे .. आज ही रेफरी बन गए।

    ReplyDelete
  3. आदि भाई आज कल रेफरी बन गये है, क्रिकेट का कल्याण हो जायेगा ।

    ReplyDelete
  4. वाह आदि आज तो बडे समार्ट लग रहे हो बहुत बहुत आशीर्वाद्

    ReplyDelete
  5. बड़ी धांसू कमीज निकाले हो भई...किसने खरीदी? मजेदार है..सबको आऊट दे दो फिर हम बैटिंग करेंगे.

    ReplyDelete
  6. आदि तुम्हारी अदाये मन को लुभा जातीं हैं।
    अरे.........
    समीर लाल और ताऊ को आउट मत दे देना।
    ये तो ब्लॉगिंग के ओपनर महारथी हैं भइया।

    ReplyDelete
  7. अबे पलटू भाई आज तो बहुत सुंदर लग रहे हो, कमीज पहन कर, बाल बना कर.... अरे कोई लडकी का चक्कर वक्कर तो नही, जो आते ही हमे आऊट कर रहे हो यार, पुरानी यारी है भई... दोस्तो के संग दंगा नही...
    बहुत सा प्यार बेटे

    ReplyDelete
  8. हम स्पैलिंग भी बता दें - OWT आउट! :)
    (बाद में शायद तुम्हारे पापा सही करें - वे ज्यादा बुद्धिमान हैं न!)

    ReplyDelete
  9. lage raho abhi to bahut ishaare sikhne hai yah wale bhi voh wale bhi

    ReplyDelete
  10. रेफरी के रोल में पुरे जम रहे हो आदि !

    ReplyDelete
  11. आदि थोडा benefit of doubt का फायदा हमें भी देते रहना.
    ईमानदार अम्पायर्स की बड़ी ज़रुरत है.

    ReplyDelete
  12. बेटे को नज़र न लगे ...ये आउट वाला फोटो बहुत ही प्यारा है...

    love ya

    ReplyDelete

कैसी लगी आपको आदि की बातें ? जरुर बतायें

Related Posts with Thumbnails