Friday, July 3, 2009

झूल झूल के सो गया आदि...

अब झूला झूलना पसंद आने लगा है.. खुद ही झूला झुलने की  फरमाइश करता हूँ.. और फिर उतरने का नाम नहीं लेता..  बस कोई झूला झूलाता रहे और मैं.... मैं झूलते झूलते नींद के मजे लुँ..




खबरदार कोई उठाकर बिस्तर पर नहीं सुलाना..

और ये इसलिए


जरा पंसद तो बताओ?


20 comments:

  1. आदि तुम तो सोते हुए बड़े भोले लग रहे हो।

    ReplyDelete
  2. oye hero so cuteeeeeeeeeeeeeeeeeeeee han.

    love ya

    ReplyDelete
  3. नन्ही कली सोने चली :) काला टीका बड़ा सा लगाओ

    ReplyDelete
  4. भाई हमें तो किसी दूसरे को भी झूलता देखकर चक्कर आ जाते हैं खुद झूलने का तो सोच भी नहीं सकते .

    ( चाहो तो हँस लो हम पर :) )

    ReplyDelete
  5. पर देखना भई, कहीं गिर न जाए।

    वैसे झुल को झूल कर लें तो बेहतर है।

    -Zakir Ali ‘Rajnish’
    { Secretary-TSALIIM & SBAI }

    ReplyDelete
  6. धन्यवाद जाकिर भाई..
    सुधार कर लिया है..

    ReplyDelete
  7. आप लोगों को सही बात बताऊं? आदि रामप्यारी की क्लास मे पढने गया था. वहां थक गया इस वजह से थक कर सो गया. आज पहले बार स्कूल गया था ना. सारी रिपोर्ट आज शाम की ३:३३ की पोस्ट मे ताऊ डाट इन पर पढ लिजियेगा. सारी पोल पट्टी खुल जायेगी.:)

    रामराम.

    ReplyDelete
  8. बहुत प्यारा लग रहा है आदि ...

    ReplyDelete
  9. नींद के सम्मोहन में पड़ कर आदित्य सबको सम्मोहित करता दिख रहा है । खूबसूरत ।

    ReplyDelete
  10. अरे झुला झुलना तो तुम्हारा खानदानी शौक लगता है क्योंकि तुम्हारे गृहनगर जोधपुर में भी ज्यादातर घरों के आगे बड़े बड़े झूले लगे होते है सुबह उन झूलों पर गृहस्वामी को बैठे अख़बार पढ़ते देखा जा सकता है और शाम को भी घर के आगे बच्चे व बूढे झूले पर झूलते नजर आते है | तो भला तुम पीछे क्यों रहोगे |

    ReplyDelete
  11. यह भी एक धमाल है

    ReplyDelete
  12. अरे वाह बहुत सुंदर झुला है, लेकिन बेटा इस मै वेल्ट जरुर बांध लेना, तो गिरने का डर भी नही रहेगा, लेकिन बंधवायेगा कोन ??
    बहुत प्यारे लग रहे हे, आज तो हमारे प्यारे लाल जी
    प्यार

    ReplyDelete
  13. @ भाटीया अंकल,

    बेल्ट तो लगाना ही पड़ता है.. काले रंग का है.. उसके बिना तो कोई झूले पर नहीं बिठाता..

    ReplyDelete
  14. mera bul bul so raha hai ....shhh! sab log dheere dheere bolo abhi aadi mithi neend me hai , touch wood :)

    ReplyDelete
  15. राजा साहेब सो रहे हैं!! खबरदार!! जो किसी ने डिस्टर्ब किया.

    बहुत प्यारे!!

    ये मम्मी ने फिर टीका लगा दिया क्या?

    ReplyDelete
  16. ऊधम मचाओगे थक जाओगे और ऐसे ही सो जाओगे .

    ReplyDelete
  17. धीरे से आ जा री निंदिया...धीरे से आ जा..

    on facebook

    ReplyDelete
  18. बहुत सुन्दर लग रहे हो मगर वो निम्बू टंगे हैं ना नज़र नहीं लगेगी----khush raho

    ReplyDelete

कैसी लगी आपको आदि की बातें ? जरुर बतायें

Related Posts with Thumbnails