Wednesday, July 29, 2009

ट्रेन की पटरी क्यों उखाड़ रहे हो भाई!!

नैनो के साथ मेरे लिये एक ट्रेन भी आई थी.. अंकल ने विशेष सिफारिश की भी पापा से..  उनका कहना था "आदि जुडे़ हुए डिब्बे और चलती ट्रेन देख बहुत खुश होगा.." एसी सिफारिश के बाद पापा को ट्रेन लानी ही थी..
  
छोटे छोटे डिब्बे चलते देख पहले तो मैं बहुत खुश हुआ.. फिर इच्छा हुई की उठा कर देखुँ..

तो इंजन तो साइड कर एक डिब्बा उठा लिया.. चलती ट्रेन से..

फिर खेल शुरु हो गया.. पापा ट्रेन चलाते और मैं डिब्बे उठाता...

और इस बार तो बड़ा हाथ मारा.. इंजन उठा लिया..


एसे ही खेल चल रहा था.. पर ’you know i want something more'

तो इसलिये हमने पटरी ही उखाड़ दी..



पटरी उखाड़ कर जी नहीं भरा.. तो उसकी माला बना डाली..


हा हा हा..

पसंद आई ये शरारत..

20 comments:

  1. ये पटरी उखाड़ना क्या गुजरों के आरक्षण आन्दोलन से सीख लिया क्या ?

    ReplyDelete
  2. आगे से पटरी से मत खेलना कहीं ममतादी ने देख लिया तो बस... :)

    ReplyDelete
  3. पटरी उखाड़ोगे तो नेता मन जनता अपने आप माला पहना देगी..यही जमाना आया है बबुआ!

    ReplyDelete
  4. अरे बाप रे । अब देखना ये है कि ज्ञान अंकल क्‍या कहते हैं रेलवे को नुकसान पहुंचाने वाले इस शैतान के बारे में

    ReplyDelete
  5. महाबली बनते ही जा रहे हो.. बच के रहना पड़ेगा..

    ReplyDelete
  6. भाई ये तो आतंकवादी बनने के लक्षण दिखाई देने लगे हैं?:)

    रामराम.

    ReplyDelete
  7. आदि बेटा!
    अभी से नक्सलवाद की ट्रेनिंग ले रहे हो।

    ReplyDelete
  8. अरे आदि बेटा.....हमको घूमने जाना है और आप ने पटरी उखाड़ दी...अब अपनी नेनो ही दे दो..उसमे बेठ कर चले जायेंगे.

    ReplyDelete
  9. vaise aaj mujhe bahut sundar lag rahe ho karo shararaten aasheervaad

    ReplyDelete
  10. अरे बाप रे! ट्रेन की पटरी ही उखाड़ दी?
    ममता दी को आज ही बताता हूँ....:-)

    ReplyDelete
  11. वाह बहादुर हो गए हो आदि जी आप ..इतना दम :) खूब लगे रहो ..

    ReplyDelete
  12. bahut shakti hai aadi mein,train ki patri ukhd di),waah shaktiman.

    ReplyDelete
  13. बहुत मस्ती करने लग गए हो भाई! तुम्हारी मेडम रामप्यारी से शिकायत लगानी पडेगी।
    आभार/ मगल भावनाऐ
    हे! प्रभु यह तेरापन्थ
    मुम्बई-टाईगर
    SELECTION & COLLECTION

    ReplyDelete
  14. हमारी नौकरी पर ख्याल करो प्यारे! :)

    ReplyDelete
  15. बेटा यह उखाड़ पछाड़ तो आगे बहुत काम आएगी

    ReplyDelete
  16. ye KAAM to hamaara KHALII bhi na kar sake tha, AADI.
    YOU ARE THE GREATEST TAHN KAHLII.
    KEEP IT UP

    ReplyDelete
  17. aadi bahi aap ke khel bhee nirale hai

    ReplyDelete
  18. शाबास बबुवा.. अबकी एयरपोर्ट का पूरा रन वे ही उखाड़ लाना.. औअर अगर ऊपर वाले ने चाहा तो तुम ऐसे ही तरक्की करते हुये एक दिन लौंच पैड भी जरूर उखाड़ लाओगे नासा से.. :)

    ReplyDelete

कैसी लगी आपको आदि की बातें ? जरुर बतायें

Related Posts with Thumbnails